Home देश लोकसभा उपचुनाव नतीजे: BJP कैराना में ‘हारी’, पालघर में जीती

लोकसभा उपचुनाव नतीजे: BJP कैराना में ‘हारी’, पालघर में जीती

112
0
SHARE

नई दिल्‍ली : कैराना लोकसभा सीट पर बीजेपी की मृगांका सिंह और गठबंधन उम्‍मीदवार तबस्‍सुम हसन के बीच टक्‍कर काफी रोचक रही. तबस्‍‍‍‍सुम ने मृगांंका को करीब 55 हजार वोट के अंतर सेे हरा दिया. 13 राउंड की वोटिंग में बीजेपी की मृगांका सिंह काफी पिछड़ गई थीं. इससेे पहले मृगांका सिंह ने अपनी हार स्‍वीकार करते हुए तबस्‍सुम हसन को जीत की बधाई दी थी. आरएलडी उम्‍मीदवार तबस्‍सुम हसन की जीत की औपचारिक घोषणा अभी बाकी है. फिलवक्‍त 4 लोकसभा और 11 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव के वोटों की गिनती चल रही है. इनमें कई जगह के परिणाम आ गए हैं. इनमें सबसे महत्‍वपूर्ण उत्‍तर प्रदेश की कैराना, महाराष्‍ट्र की पालघर और भंडारा-गोंदिया है, जबकि उत्‍तर-पूर्वी भारत की नागालैंड लोकसभा सीट के नतीजे आएंगे.

सुबह से ही बढ़त बनाए हैं तबस्‍सुम
सुबह से ही कैराना सीट पर गठबंधन उम्‍मीदवार तबस्‍सुम हसन आगे थीं जबकि बीजेपी की मृगांका सिंह दूसरे नंबर पर थीं. इस सीट पर कुल 12 उम्‍मीदवार चुनाव मैदान में हैं. चर्चित कैराना सीट पूर्व बीजेपी सांसद हुकुम सिंह के निधन से खाली हुई थी, जिसके बाद उप चुनाव के लिए बीजेपी ने हुकुम सिंह की बेटी मृगांका सिंह को इस सीट पर चुनावी मैदान में उतारा गया था. दरअसल, इन उपचुनावों में भाजपा जीत हासिल कर मतदाताओं को यह संदेश देना चाहती है कि गोरखपुर और फूलपुर में मिली हार केवल अपवाद थी.

महाराष्‍ट्र के पालघर में राजेंद्र गाविट आगे निकले
महाराष्‍ट्र की पालघर लोकसभा सीट में बीजेपी के गवित राजेंद्र चुनाव जीत गए हैं. दोपहर एक बजे तक काउंटिंग में वह 2,63,683 वोट के साथ सबसे आगे थे. यहां का चुनाव परिणाम सभी 4 बड़े राजनीतिक दलों- बीजेपी, शिवसेना, कांग्रेस और राकांपा के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि इस नतीजे का उनकी भावी दिशा पर असर पड़ने की संभावना है. शिवसेना के श्रीनिवास वनागा कई हजार मतों से पीछे थे. द क्विंट के मुताबिक राजेंद्र कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए हैं. वैसे पालघर परंपरागत रूप से बीजेपी की सीट रही है. वहीं, स्थानीय स्तर पर बहुजन विकास आघाडी की भी पकड़ है. भंडारा-गोंदिया सीट पर बीजेपी के हेमंत पाटले और एनसीपी ने मधुकर कुकडे के बीच मुकाबला है. यह सीट बीजेपी सांसद नाना पटोले के इस्तीफा देने के बाद खाली हुई थी.

नगालैंड में एनपीएफ फिर पिछड़ा
नगालैंड
 की इकलौती लोकसभा सीट पर मतों की गिनती शुरू हो चुकी है. शुरुआती रुझान में एनडीपीपी उम्‍मीदवार 1,12,337 वोट से आगे चल रहे थे. द क्विंट नेे एएनआई के हवाले सेे कहा कि बाद मेें नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) 11000 वोट से आगे हो गया. हालांं‍कि तोखेयो ने फिर 34,669 वोटों से बढ़त बना ली. वह येपथोमी पीपुल्स डेमोक्रेटिक अलायंस की ओर से उम्मीदवार हैं. यहां मौजूदा मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो के इस्तीफ से खाली हुई नगालैंड सीट पर 28 मई को उपचुनाव हुआ था.

फरवरी में राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले उन्होंने सांसद पद से इस्तीफा दे दिया था. इस सीट पर सिर्फ दो ही उम्मीदवार मैदान में हैं. राज्य की यह इकलौती लोकसभा सीट है. यहां मुख्य मुकाबला कांग्रेस के समर्थन वाली नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) और बीजेपी के समर्थन वाली नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) के उम्मीदवारों के बीच है. मुख्‍य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि काउंटिंग सुबह समय से शुरू हुई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here