Home खेल IPL 2018: वॉटसन ने फाइनल में शतक को बताया ‘स्पेशल’, हैदराबाद के...

IPL 2018: वॉटसन ने फाइनल में शतक को बताया ‘स्पेशल’, हैदराबाद के इस गेंदबाज को सराहा

88
0
SHARE

मुंबई: चेन्नई की जीत के नायक रहे शेन वॉटसन ने फानइल की अपनी शतकीय पारी को विशेष करार दिया जिसके दम पर उनकी टीम ने हैदराबाद को आठ विकेट से हराया. हैदराबाद ने पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर छह विकेट पर 178 रन बनाये. चेन्नई ने शेन वॉटसन के नाबाद 117 की मदद से दो विकेट पर 181 रन बनाकर तीसरी बार खिताब जीता.

वॉटसन को नाबाद शतक के लिये मैन ऑफ द मैच चुना गया. उन्होंने कहा कि यह पूरा सत्र उनके लिये बेहतरीन रहा. इस ऑलराउंडर ने कहा, ‘‘यह सत्र विशेष रहा. आज सब कुछ मेरे अनुकूल रहा, लेकिन इतने बड़े मैच में इस तरह की पारी खेलना खास रहा.’’

वॉटसन ने पहले दस गेंदों पर रन नहीं बनाया था. उन्होंने कहा, ‘‘इन दस गेंदों के बाद मैंने आगे उनकी भरपायी करने की कोशिश की. भुवनेश्वर ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की और इसलिए हम पहले छह ओवर में विकेट नहीं गंवाना चाहता था. जब गेंद स्विंग नहीं करने लगी तो फिर रन बनाना आसान हो गया था.’’

वहीं दूसरी ओर हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन भले ही अपनी टीम को खिताब नहीं दिला पाये, लेकिन न्यूजीलैंड के इस बल्लेबाज ने आईपीएल-11 में सर्वाधिक 735 रन बनाकर रविवार (27) को यहां आखिर में ‘ऑरेंज कैप’ हासिल की, जबकि पंजाब के तेज गेंदबाज एंड्रय टाई को सर्वाधिक विकेट लेने के लिये ‘पर्पल कैप’ मिली.

विलियमसन ने 17 मैचों में 52.50 की औसत से 735 रन बनाए, जिसमें आठ अर्धशतक भी शामिल हैं. उनके बाद दिल्ली के ऋषभ पंत 684 रन बनाकर दूसरे स्थान पर रहे. दिल्ली की टीम प्लेऑफ में जगह बनाने में नाकाम रही थी. विलियमसन इस तरह से आईपीएल के किसी एक सत्र में 700 से अधिक रन बनाने वाले पांचवें बल्लेबाज बने. उनसे पहले क्रिस गेल, माइकल हसी, विराट कोहली और डेविड वॉर्नर ने यह उपलब्धि हासिल की थी. गेल ने दो बार यह कारनामा किया.

उल्लेखनीय है कि चेन्नई ने रविवार (27 मई) को हैदराबाद को आठ विकेट से हराकर तीसरी बार आईपीएल खिताब जीता. सनराइजर्स ने पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर छह विकेट पर 178 रन बनाये. चेन्नई शेन वॉटसन के नाबाद 117 की मदद से दो विकेट पर 181 रन बनाकर चैंपियन बना.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here