Home कारोबार HDFC बैंक का नया सर्कुलर, डेबिट-क्रेडिट कार्ड से अब नहीं होगा यह...

HDFC बैंक का नया सर्कुलर, डेबिट-क्रेडिट कार्ड से अब नहीं होगा यह काम, जरूर पढ़ें

108
0
SHARE

अगर आपके पास एचडीएफसी (HDFC) बैंक का क्रेडिट कार्ड/ डेबिट कार्ड है तो यह खबर आपके लिए है. HDFC बैंक ने अपने डेबिट, क्रेडिट और प्रीपेड कार्ड्स से बिटकॉइन व अन्‍य क्रिप्‍टोकरेंसी की खरीद पर रोक लगा दी है. क्रिप्‍टोकरेंसी के अलावा बैंक ने HDFC द्वारा जारी कार्ड के जरिए किसी भी तरह की वर्चुअल करेंसी की खरीद पर भी बैन लगा दिया है. इस बात के लिए बैंक ने ग्राहकों के लिए सर्कुलर जारी किया है. सरकार ने किसी भी तरह की धोखाधड़ी से बचाने के लिए बिटकॉइन को गैर-कानूनी घोषित कर दिया था.

क्या है सर्कुलर में?
सर्कुलर में बैंक ने कहा है कि बिटकॉइन, क्रिप्‍टोकरेंसी और वर्चुअल करेंसी को लेकर दुनिया भर में आशंकाएं बढ़ रही हैं. RBI भी नागरिकों को इन करेंसीज के इकोनॉमिक, ऑपरेशनल, लीगल और सिक्‍योरिटी संबंधित संभावित जोखिमों के बारे में आगाह कर चुका है. अपने कस्‍टमर्स की सिक्‍योरिटी को सुनिश्चित करते हुए बैंक ने HDFC बैंक क्रेडिट, डेबिट और प्रीपेड कार्ड्स से बिटकॉइन, क्रिप्‍टोकरेंसीज और वर्चुअल करेंसीज की ट्रेडिंग या खरीद पर रोक लगाने का फैसला किया है. बैंक ने अपने सभी कस्‍टमर्स को यह सर्कुलर ई-मेल के जरिए भेजा है.

सिटी बैंक भी लगा चुका है बैन 
HDFC बैंक से पहले फरवरी माह में सिटी बैंक ने भी अपने क्रेडिट और डेबिट कार्ड्स के जरिए क्रिप्‍टोकरेंसी की खरीद पर रोक लगाई थी. इसके अलावा बैंक ऑफ अमेरिका और जेपी मॉर्गन चेज जैसे ग्‍लोबल बैंक भी क्रिप्‍टोकरेंसी की खरीद पर बैन लगा चुके हैं. SBI कार्ड ने भी क्रिप्‍टोकरेंसी के जोखिमों को लेकर अपने कस्‍टमर्स को चेतावनी जारी की थी, हालांकि उसने अपने क्रेडिट कार्ड से इनकी खरीद पर बैन नहीं लगाया है.

सरकार भी कर चुकी है आगाह
बता दें कि सरकार की ओर से भी बार-बार कहा जा चुका है कि देश में क्रिप्‍टोकरेंसी या वर्चुअल करेंसी की खरीद या ट्रेडिंग मान्‍य नहीं है. जो लोग इसमें ट्रान्‍जेक्‍शंस कर रहे हैं, वे इसके जोखिमों के लिए स्‍वयं उत्‍तरदायी होंगे. वित्त मंत्री अरुण जेटली भी सदन में कह चुके हैं कि क्रिप्टो करेंसी भारत में वैध मुद्रा नहीं हैं. वित्त मंत्री ने बताया था कि 2013 से 2017 तक भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) और सरकार का रुख बहुत साफ रहा है कि बिटकॉइन जैसी क्रिप्टो करेंसी भारत में वैध मुद्रा नहीं हैं.

बैंक ने नियमों में किया बदलाव
HDFC बैंक ने सेविंग अकाउंट के नए नियम में एचडीएफसी क्लासिक कस्टमर्स के लिए हर महीने न्यूनतम बैलेंस 1 लाख रुपए कर दिया है. मतलब ये कि अगर आप एचडीएफसी के क्लासिक कस्टमर हैं तो आपको अपने सेविंग अकाउंट में महीने के आधार पर कम से कम 1 लाख रुपए रखने होंगे.

एफडी के लिए भी किया बदलाव 
बैंक ने एक और बड़ा बदलाव किया है. अगर आपका सेविंग अकाउंट एफडी के साथ लिंक है तो आपको अपने अकाउंट में कम से कम 5 लाख रुपए रखने होंगे. जहां सेविंग अकाउंट में न्यूनतम बैलेंस 1 लाख रखना है. वहीं, टर्म डिपॉजिट के लिए कम से कम 5 लाख रखने होंगे. बैंक के मुताबिक, नए नियम इस साल 9 दिसंबर से लागू होंगे.