Home देश आगरा में तमंचे के बल पर परीक्षा में नकल, स्टूडेंट्स ने किताबें...

आगरा में तमंचे के बल पर परीक्षा में नकल, स्टूडेंट्स ने किताबें खोलकर जी भर की चीटिंग

63
0
SHARE

उत्तर प्रदेश में नकलविहीन परीक्षाओं का दावा खोखला साबित होता नजर आ रहा है. हाल ही में एक वीडियो सामने आया है जिसमें कॉलेज में हो रही परीक्षा में छात्र-छात्राएं धड़ल्ले से नकल करते दिख रहे हैं. इतना ही नहीं कमरे में एक शख्स भी नजर आ रहा है जिसकी कमर में बंदूक लटकी हुई है. बताया जा रहा है कि ये युवक न तो परीक्षक था और न ही कॉलेज का कर्मचारी था. वीडियो सामने आने के बाद कॉलेज ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं. साथ ही ये पता लगाया जा रहा है कि बंदूक लिए युवक आखिर कॉलेज के कमरे में कैसे पहुंचा.

शिवसेना ने किया खुलासा
ये पूरी घटना आगर के डॉ. बी.आर अंबेडकर यूनिवर्सिटी के बिचपुरी रोड स्थित कृष्णा अकेडमी की है. जहां बीए प्रथम वर्ष की परीक्षा चल रही थी. इस मामले का खुलासा शिवसेना के जिला प्रमुख वीनू लवानिया ने किया है. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए बताया कि उन्हें कॉलेज में नकल किए जाने की खबर मिली थी. इस पर शिवसेना के कुछ कार्यकर्ता वहां पहुंचे और उन्होंने पूरी घटना को अपने मोबाइल में कैद कर लिया.

रिकॉर्ड किए गए मोबाइल में एक शख्स कमरे में घूमता दिख रहा है. उसकी पैंट से एक बंदूक लटकी हुई है. इस दौरान छात्र-छात्राएं किताब खोलकर आराम से नकल करते दिख रहे हैं. पहले लगा कि कमरे में मौजूद शख्स परीक्षक है, लेकिन बाद में खुलासा हुआ कि ये शख्स न तो एग्जामिनर था और न ही कॉलेज का कोई कर्मचारी. यानि कमरे में परीक्षक मौजूद ही नहीं था, उसकी जगह बस बंदूक लिए ये युवक ही था.

वीडियो सामने आने के बाद जांच शुरू
इस वीडियो के सामने आने के बाद विवि के कुलपति अरविंद दीक्षित का कहना था कि वीडियो की जांच की जा रही है. उन्होंने कहा जांच के बाद नकल कराने के मामले में कार्रवाई के साथ कॉलेज की मान्यता भी रद्द की जा सकती है.

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने विश्वविद्यालय की परीक्षाओं से संबंधित समीक्षा बैठक करते हुए यह निर्देश दिया था कि परीक्षाओं पर एसआईटी की निगरानी होगी. सभी परीक्षाओं को नकलविहीन बनाया जाएगा. खुद कमिश्नर के. राम मोहन राव और वीसी अरविंद दीक्षित परीक्षाओं की निगरानी कर रहे थे. बावजूद इसके यूनिवर्सिटी की परीक्षाओं में नकल होने के मामले सामने आ रहे हैं.