Home देश CBI ने सिंभौली शुगर्स लिमिटेड के खिलाफ दर्ज किया धोखाधड़ी का मामला

CBI ने सिंभौली शुगर्स लिमिटेड के खिलाफ दर्ज किया धोखाधड़ी का मामला

57
0
SHARE

सीबीआई ने सिम्भौली शुगर्स लिमिटेड, उसके अध्यक्ष गुरमीत सिंह मान, उप महाप्रबंधक गुरपाल सिंह और अन्य के खिलाफ 97.85 करोड़ रुपये की कथित बैंक ऋण धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है. सिम्भौली शुगर्स लिमटेड देश की सबसे बड़ी चीनी मिलों में से एक है. एजेंसी ने कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जी एस सी राव, सीएफओ संजय तापड़िया, कार्यकारी निदेशक गुरसिमरन कौर मान और पांच गैर-कार्यकारी निदेशकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. गुरपाल सिंह पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के दामाद हैं. सीबीआई के प्रवक्ता अभिषेक दयाल ने बताया कि एजेंसी ने निदेशक के आवास, कारखाने एवं दिल्ली, हापुड़ और नोएडा स्थित कंपनी के कॉरपोरेट और पंजीकृत कार्यालयों सहित आठ ठिकानों पर तलाशी ली.

दिल्‍ली के हीरा कारोबारी पर लोन धोखाधड़ी का आरोप
नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के बाद सीबीआई ने दिल्ली के एक हीरा कारोबारी पर ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स से 389.85 करोड़ रुपए की कथित तौर पर ऋण धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज किया गया है. सीबीआई ने कथित धोखाधड़ी के लिए द्वारका दास सेठ इंटरनेशनल लिमिटेड पर मामला दर्ज किया है. सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक की शिकायत के छह माह बाद एजेंसी ने कंपनी के निदेशकों सभ्य सेठ, रीता सेठ, कृष्ण कुमार सिंह, रवि सिंह एवं एक अन्य कंपनी द्वारका दास सेठ एसईजेड इनकॉर्पोरेशन के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

वहीं, दूसरी ओर पंजाब नेशनल बैंक में कथित फर्जीवाड़ा मामले में अपनी जांच विस्तारित करते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार (23 फरवरी) को नीरव मोदी की पत्नी एमी को पूछताछ के लिए समन भेजा और साथ ही नीरव की बैंकों में जमा राशि तथा शेयरों सहित लगभग 44 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर ली. ईडी ने अरबपति हीरा आभूषण कारोबारी से जुड़ी एक वर्कशॉप से बड़ी संख्या में आयातित घड़ियां भी जब्त कर लीं.

नीरव मोदी, चोकसी पर और कसा ईडी का शिकंजा
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) हीरा कारोबारी नीरव मोदी तथा गीतांजलि जेम्स के मालिक मेहुल चोकसी की विदेशी संपत्तियों व कारोबार के बारे में दर्जन से भी अधिक देशों से जानकारी मांगेगा. इस बारे में जल्द ही अनुरोध पत्र भेजने की तैयारी की जा रही है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि एजेंसी इस बारे में मुंबई में सक्षम अदालत से संपर्क कर इस संबंध में अनुरोध पत्र (एलआर) जारी करने का आग्रह करेगी. ये अनुरोध पत्र उन 15-17 देशों को भेजे जाने है जहां उसे नीरव मोदी, उसके मामा चोकसी व उनसे सम्बद्ध अन्य लोगों के स्वामित्व वाली फर्मों के हीरा व स्वर्ण आभूषण कारोबार होने के संके​त मिले हैं. उक्त देशों में बेल्जियम, हांगकांग, स्विटजरलैंड, अमेरिका, ब्रिटेन, दुबई, सिंगापुर व दक्षिण अफ्रीका शामिल है. सूत्रों ने कहा कि एजेंसी से एजेंसी स्तर पर सूचनाएं प्रदान करने के कुछ आग्रह भी विभिन्न देशों को भेजे जाएंगे.