Home कारोबार घोटाले के बाद PNB की रेटिंग पर क्रिसिल की नजर

घोटाले के बाद PNB की रेटिंग पर क्रिसिल की नजर

70
0
SHARE

मुंबई : PNB में 11,400 करोड़ रुपये के घोटाले के बाद रेंटिंग एजेंसी ने बैंक की रेटिंग को लेकर बहुत बड़ा कदम उठाया है. रेटिंग एजेंसी ने पंजाब नेशनल बैंक की रेटिंग की निगरानी शुरू कर दी है. PNB घोटाला के बाद रेटिंग एजेंसी क्रिसिल ने बैंक की रेटिंग को निगरानी में रखा है. हालांकि, बैंक के स्पष्टीकरण देने के बाद उसपर से निगरानी हट सकती है. बैंक के 11,400 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के खुलासे के बाद क्रिसिल ने यह कदम उठाया है और बैंक से स्प्ष्टीकरण मांगा है.

रेटिंग एजेंसी ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक को उसके विभिन्न ऋण जुटाने के साधनों को ‘AAA’ और ‘AA’ रेटिंग दे रखी है. रेटिंग एजेंसी क्रिसिल के अनुसार, धोखाधड़ी के खुलासे के बाद हमने पीएनबी के ऋण जुटाने के माध्यमों (बांड) को दी गयी रेटिंग को निगरानी में रखा है. एजेंसी ने कहा कि हमने इस बारे में पीएनबी प्रबंधन से चीजों को स्पष्ट करने की मांग है जिसमें वसूली की संभावना, अनुमानित प्रावधान, पूंजीकरण अनुपात पर संभावित प्रभाव और अतिरिक्त पूंजी समर्थन की उम्मीद शामिल है.

स्पष्टीकरण देने के बाद हटेगी रेटिंग की निगरानी
क्रिसिल ने हालांकि, कहा कि मामले में स्पष्टता आने के बाद वह रेटिंग को निगरानी से हटा देगा और उसके बारे में अंतिम निर्णय करेगा. बैंक का सकल NPA दिसंबर 2017 को समाप्त अवधि में 12.11 प्रतिशत पर बना हुआ है. हालांकि, यह एक साल पहले के 13.70 प्रतिशत के स्तर से कम है.