Home दुनिया दक्षिण कोरिया के अस्पताल में लगी आग, 33 लोगों की जलकर मौत

दक्षिण कोरिया के अस्पताल में लगी आग, 33 लोगों की जलकर मौत

88
0
SHARE

दक्षिण कोरिया के एक अस्पताल में आग लगने से कम से कम 33 लोगों की जलकर मौत हो गई जबकि दर्जनों की संख्या में लोग घायल हो गये. संवाद समिति योन्हाप की खबर के अनुसार, इस पांच मंजिला इमारत में एक नर्सिंग होम और एक अस्पताल हैं. एजेंसी ने मौके पर मौजूद दमकल कर्मियों के हवाले से बताया कि इस घटना में अभी तक 33 लोग मारे गये हैं.

इससे पहले दमकल विभाग ने 19 लोगों के मारे जाने की सूचना दी थी. दमकल विभाग के प्रमुख चोई मान-वू ने बताया कि अभी तक आग लगने के कारणों का पता नहीं चला है. उन्होंने कहा कि सभी मरीजों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है. पुलिस ने बताया कि घटना के वक्त अस्पताल भवन में करीब 200 लोग मौजूद थे.

इससे पहले जनवरी माह में ही दक्षिण कोरिया की राजधानी सोल के एक होटल में आग लगाई जाने की घटना में पांच लोगों की मौत हो गई. इस घटना में चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. उनका इलाज अस्पताल में जारी है. पुलिस ने आग लगाने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है. बताया जा रहा है कि आरोपी शख्स ने गुस्से में इस घटना को अंजाम दिया था. आरोपी पेशे से डिलिवरी बॉय है. उसकी उम्र 53 साल बताई जा रही है.

होटल में कमरा नहीं दिया तो लगाई आग
जानकारी के मुताबिक, आरोपी शख्स दो मंजिला मोटल में कमरा लेने के लिए गया था. लेकिन वो नशे में धुत था. ऐसे में उसे मोटल के कर्मचारियों ने कमरा देने से मना कर दिया. कर्मचारियों और आरोपी के बीच काफी समय तक बहस हुई इसके बाद वो वहां से चला गया.

पेट्रोल डाला और लगा दी आग
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि कमरा नहीं मिलने से नाराज व्यक्ति झगड़े के बाद मोटल से चला गया और फिर पास के सर्विस स्टेशन से कम से कम 10 लीटर पेट्रोल ले आया. उसने इस पेट्रोल को ग्राउंड फ्लोर पर डाला और फिर उसमें आग लगा दी. आग तेजी से मोटल में फैली. लोगों की चीखे सुन कर्मचारियों और आसपास के लोगों ने अपने स्तर पर आग पर काबू करने का प्रयास किया, लेकिन वे इसमें सफल नहीं हो सके.

घटना के बारे में पुलिस और दमकल को सूचना दी गई, जिन्होंने मौके पर पहुंचकर स्थिति और आग को काबू में किया. इस घटना में पांच लोगों की मौत हो गई. वहीं चार लोगों को बचा लिया गया. हालांकि, उनकी हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है.पुलिस के मुताबिक, घटना के बाद आरोपी ने खुद आग लगाने की बात स्वीकारी जिसके बाद उसे अरेस्ट कर लिया गया. आरोपी की पहचान यू के रूप में की गई है और वह 53 वर्ष का है.