Home मनोरंजन एक्शन फिल्मों में हो रहे बदलाव से खुश हैं रणदीप हुड्डा, जानें...

एक्शन फिल्मों में हो रहे बदलाव से खुश हैं रणदीप हुड्डा, जानें क्या कहा

78
0
SHARE

सुपर फाइट लीग टीम हरियाणा सुल्तान्स के सह-मालिक अभिनेता रणदीप हुड्डा का मानना है कि कलाकार मिश्रित मार्शल आर्ट (एमएमए) को बड़े पैमाने पर इस्तेमाल में ला रहे हैं. इससे देश में फिल्म की एक्शन विधा बेहतर हो रही है. चाहे वह ‘कमांडो’ श्रृंखला की फिल्में हों या ‘मुन्ना माइकल’, ‘नाम शबाना’ या ‘बागी’ – बॉलीवुड एक्शन फिल्में उच्च मानक स्थापित कर रही हैं. रणदीप ने कहा कि मिश्रित मार्शल आर्ट के इस्तेमाल ने इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.

रणदीप ने आईएएनएस से कहा, “यह देखना अच्छा लगता है कि कैसे इन दिनों कलाकारों के फिटनेस का स्तर बढ़ा है और यह उन एक्शन दृश्यों में नजर आ रहा है, जहां मिश्रित मार्शल आर्ट का इस्तेमाल हुआ है. मैं उम्मीद करता हूं कि यह और आगे जाएगा.” रणदीप खुद भी अपनी शारीरिक फिटनेस, पोलो और घुड़सवारी में उपलब्धियां हासिल करने के लिए जाने जाते हैं. वह एमटीवी सुपर फाइट लीग सीजन-2 जैसे प्लेटफॉर्म से खुश हैं, जो मिश्रित मार्शल आर्ट को बढ़ावा देता है. अभिनेता ने बताया कि उन्होंने फिल्म ‘दो लफ्जों की कहानी’ की तैयारी के दौरान मिश्रित मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण लिया था। फिल्म में उन्होंने मिश्रित मार्शल आर्ट फाइटर का किरदार निभाया था.

बता दें, रणदीप को उनकी फिल्म सरबजीत में उनके किरदार के लिए भी जाना जाता है. रणदीप ने इस फिल्म के लिए अपना वजन काफी कम कर लिया था और फिल्म में उनकी एक्टिंग की भी सरहाना की गई थी. इस फिल्म में उनके साथ ऐश्वर्या राय भी अहम भूमिका में नजर आईं थीं और फिल्म को क्रिटिक्स द्वारा भी सराहा गया था.