Home देश इन 4 राज्यों में Padmaavat दिखाई जाएगी? सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

इन 4 राज्यों में Padmaavat दिखाई जाएगी? सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

145
0
SHARE

सुप्रीम कोर्ट फिल्म ‘पद्मावत’ के कई राज्यों में प्रदर्शन पर प्रतिबंध के खिलाफ निर्माताओं की याचिका पर आज (गुरुवार) को सुनवाई करेगा. प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए. एम. खानविलकर और न्यायमूर्ति धनंजय वाई चन्द्रचूड़ की खंडपीठ ने फिल्म के निर्माता वायकॉम 18 और अन्य के वकील की इस दलील पर विचार किया कि 25 जनवरी को फिल्म रिलीज हो रही है. ऐसे में याचिका पर शीघ्र सुनवाई की जरूरत है. इससेे पहले गुजरात, मध्‍यप्रदेश और राजस्‍थान और मंगलवार को हरियाणा द्वारा संजय लीला भंसाली की फिल्‍म ‘पद्मावत’ पर बैन लगाए जाने के बाद फिल्‍म के प्रोड्यूसरों ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया.

न्‍यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार ‘पद्मावत’ के निर्माताओं ने अब कुछ राज्‍यों में इस फिल्‍म की रिलीज पर लगाए गए बैन के विरोध में सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था.सेंसर बोर्ड से मंजूरी मिलने के बाद भी कुछ राज्यों द्वारा फिल्म पर बैन लगाए जाने को फिल्म के निर्माताओं ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है. फिल्म निर्माता के सामने सबसे बड़ी दिक्कत यह है कि करोड़ों के बजट से तैयार हुई इस फिल्म को अगर देश के चार राज्यों में रिलीज नहीं किया जाएगा तो व्यापार में बहुत नुकसान होगा.

 यही वजह है प्रोड्यूसरों ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है. जब सेंसर बोर्ड ने फिल्म को हरी झंडी दे दी है और फिल्म में बदलाव भी कर दिए गए हैं तो उसे रिलीज होने से आखिर क्यों रोका जा रहा है.अदालत के सामने पद्मावत के वकील की मुख्य दलील यही होगी.  बता दें कि सेंसर बोर्ड द्वारा पास किए जाने के बाद हाल ही में इस फिल्‍म की रिलीज डेट 25 जनवरी तय की गई है. यह फिल्‍म हिंदी के साथ ही तमिल और तेलगु भाषा में भी रिलीज की जाएगी. ‘पद्मावत’ आईमैक्‍स थ्रीडी में रिलीज होने वाली भारत की पहली फिल्‍म होगी.

करणी सेना की मांग, फिल्‍म पर लगे राष्‍ट्रव्‍यापी बैन
वहीं दूसरी तरफ इस फिल्‍म को लेकर राजस्‍थान में करणी सेना का विरोध अब भी जारी है. मंगलवार को भी राजस्थान के धोलपुर में करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने इस फिल्‍म को पूरे देश में बैन किए जाने पर विरोध प्रदर्शन किया. कल्‍वी ने अपने बयान में कहा, ‘मैं बार बार देश के प्रधानमंत्री और मुख्‍यमंत्रियों से अनुरोध करता हूं कि हमारी भावनाओं को समझ जाएं.’

चार बड़े राज्‍यों ने लगाया प्रतिबंध
शुरुआत से ही विवादों से घिरी भंसाली की यह फिल्‍म ‘पद्मावत’ सेंसर बोर्ड से पास होने के बाद भी काफी मुश्किलों से गुजर रही है. ‘पद्मावत’ 25 जनवरी को रिलीज होगी. मंगलवार को हरियाणा के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री अनिल विज ने अपने बयान में कहा, ‘मीटिंग में मैंने कहा कानून व्‍यवस्‍था को ध्‍यान में रखते हुए हमें इस फिल्‍म को राज्‍य में बैन कर देना चाहिए. मंत्रिमंडल ने मेरा समर्थन किया और हमने इसे हरियाणा में बैन करने का फैसला लिया.’ बता दें कि हरियाणा से पहले गुजरात और राजस्‍थान जैसे राज्‍य भी इस फिल्‍म की रिलीज पर रोक लगा दी है. वहीं मध्‍य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान भी अपने राज्‍य में इस फिल्‍म को रिलीज न होने देने के संकेत दे चुके हैं.