जायरा वसीम के बचाव में आए नायडू, पूछा- ‘अति उदारवादी मूक क्यों हैं?’

नई दिल्ली : केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू मंगलवार को दंगल फिल्म की अभिनेत्री और 16 वर्षीय कश्मीरी लड़की जायरा के बचाव में नजर आये, जो जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से मुलाकात के बाद अलगाववादियों और अन्य लोगों के निशाने पर आ गयी थी।

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने आश्चर्य प्रकट करते हुए कहा कि ‘अति उदारवादी’ इस मुद्दे पर मूक क्यों हैं।

भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के एक कार्यक्रम के दौरान नायडू ने कहा, ‘अपने राज्य की मुख्यमंत्री से मिलने के लिए उसे माफी क्यों मांगनी पड़ी? सभी इस मुद्दे पर मूक क्यों हैं? तथाकथित अति उदारवादी कहां हैं?’ उन्होंने कहा कि घटना स्पष्ट तौर पर छद्म उदारवादियों से जुड़ी विडंबना को दिखाती है, जो इससे पहले ‘असहिष्णुता’ के कथित तौर पर बढ़ने को लेकर खुलकर बोल रहे थे। नायडू ने लोगों से जायरा के समर्थन का आग्रह किया। हाल में रिलीज हुई बॉलीवुड फिल्म ‘दंगल’ में गीता फोगाट के बचपन का किरदार निभाने वाली जायरा की मुख्यमंत्री महबूबा से मुलाकात की तस्वीर सामने आने के बाद अभिनेत्री पर जमकर निशाना साधा गया था।

नायडू ने कहा कि वास्तव में यह शानदार उपलब्धि है कि जम्मू कश्मीर के बच्चे मुख्यधारा में आ रहे हैं और अपनी प्रतिभा दिखा रहे हैं एवं हजारों युवाओं को प्रेरित कर रहे हैं।

Related Post
मुंबई: अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या का आरोप झेल रही इन्द्राणी मुखर्जी ने सीबीआई
जम्मू : केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि जम्मू कश्मीर सरकार जायरा वसीम से
नई दिल्ली : भारत-पाक संबंधों में जारी तल्खी के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्पष्ट
नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को आज यहां एक अस्पताल में भर्ती कराया गया।
इंदौर: नरेंद्र मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले की कड़वी दवा से तुलना करते हुए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *